गोवा के बीच पर गर्लफ्रेंड के साथ दूसरे कपल की चुदाई देखी

हाय… मैं जसबीर बहुत ही सेक्सी मर्द हूँ।

हिंदी सेक्स स्टोरीज की सर्वाधिक पढ़ी जाने वाली साईट अन्तर्वासना पर आज मैं अपनी सच्ची घटना को एक सेक्स स्टोरी के रूप में बताना चाहता हूँ।

बात तब की है.. जब मैं कॉलेज का फाइनल एग्जाम दे चुका था और हमारे क्लासमेट्स के साथ हमने गोवा जाने का प्रोग्राम बनाया। हम सब फ्रेंड्स के साथ जाने को हमारी गर्लफ्रेंड्स भी रेडी थीं और तयशुदा प्रोग्राम के अनुसार हम सब गोवा पहुँच गए।

पहले दिन हम सभी ने साथ में मिल कर गोवा की सुंदर जगहों को घूमा। फिर दूसरे दिन हमने तय किया कि अलग अलग घूमने जाएंगे।

मैं और मेरी गर्लफ्रेंड अंकिता ने समुद्रतट की तरफ जाने के लिए बस ली, बस में हमारी मुलाकात एक न्यूली मैरिड कपल से हो गई। वो बहुत ही सेक्सी कपल थे और उनकी हरकतें भी बहुत गर्म कर देने वाली थीं। हमें भी मजा आ रहा था। वे लोग लिप किसिंग कर रहे थे। उस कपल में जो लड़का था उसका नाम अजीत था, वो अपनी वाइफ सुनीता के चूचे भी बड़े स्टायल से दबा रहा था।

मैं आप सभी को सुनीता के बारे में बता दूँ। सुनीता एक बहुत ही भरी हुई मांसल सी माल थी.. उसके चूचे बहुत बड़े थे और गांड भी बहुत मस्त थी। वो बहुत गोरी थी और उसका फिगर 36-30-38 का था, हाइट भी साढ़े पांच फुट की थी।

दूसरी तरफ मेरी गर्लफ्रेंड अंकिता भी कम नहीं थी.. उसकी फिगर 34-28-36 की थी.. अंकिता का रंग भी लगभग गोरा था और कद 5 फुट 4 इंच का था।

अंजुना बीच पर पहुँच कर हम घूमते-घूमते एक सुनसान सी जगह में पहुँच गए और हम दोनों ने वहाँ किसिंग शुरू कर दी। जब से हम दोनों ने उस न्यू-कपल को गरमागरम हरकतें करते देखा था, हम दोनों तभी से बहुत गर्म हो चुके थे।

थोड़ी देर लिप-किस करने के बाद मैं अंकिता के मम्मों को दबाने लगा और मैंने उसका टॉप उतार दिया, इसमें उसने भी मेरा साथ दिया। गोवा के सेक्सी फिजाओं में आज अंकिता के हुस्न को देखता ही रह गया।

उसकी क्या शानदार चूचियाँ थीं.. और पिंक ब्रा में से बड़े ही नज़ाकत से बाहर झाँकती हुई मुझसे शायद कह रही थीं कि आओ मुझे दबाओ और चूस डालो।

मैं जैसे ही अंकिता के मम्मों को दबाने को हुआ, तभी मुझे कुछ आवाज़ सुनाई दी। हम दोनों ने देखा कि वो न्यू कपल हमारे ठीक सामने खड़ा है। हम दोनों एकदम अलर्ट हो गए और वहाँ से जाने लगे।

अजीत ने मुझसे कहा- डरो नहीं यार.

. हम भी यही सब करने आए हैं। हम चारों में बातें होने लगीं, हम सबने डिसाइड किया कि हम सब यहीं अपना काम करेंगे।

बीच की सुनहरी रेत में एक तरफ मैं अपनी गर्लफ्रेंड के साथ शुरू हुआ.. वहीं दूसरी तरफ अजीत अपनी वाइफ के साथ चुदाई में लग गया।

हम दोनों ने तय किया कि हम किसिंग का बहाना करेंगे और उनकी चुदाई देखेंगे। हमने देखा कि अजीत ने किसिंग करते हुए सुनीता के सभी कपड़े उतार दिए.. और क्या बताऊँ कि सुनीता क्या गदर माल लग रही थी।

मेरा लंड तो जीन्स के अन्दर से तंबू के बम्बू की तरह खड़ा हो गया। सुनीता का पूरा बदन एकदम गोरा था और उसके चूचे इतने रसीले थे कि मेरा जी कर रहा था कि अजीत को हटा कर सुनीता की चूचियों का सारा रस पी जाऊँ।

फिर नीचे देखा तो उसकी चुत भी इतनी गुलाबी थी.. ऐसा लग रहा था कि इसको पकड़ कर इसकी चुत में अभी ही अपना पूरा मुँह लगा दूँ और उसकी चुत के रस का पान करूँ। मेरा लंड तो अब तक पूरा प्यासा हो चुका था।

अजीत ने अपने कपड़े उतार दिए और वो भी पूरा नंगा हो गया, उसका लंड लगभग 7.5 इंच लंबा था और मोटा भी बहुत था। इस वक्त अजीत का लंड अपने पूरे शवाब पर था। मैंने अंकिता की तरफ चुपके से देखा.. वो भी अजीत को नेकेड देख कर हॉट हो गई थी, पर हम अभी भी किसिंग की एक्टिंग कर रहे थे। यह हिंदी सेक्स स्टोरी आप अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं!

अब अजीत और सुनीता 69 की पोज़िशन में हो गए.. सुनीता ने अजीत का लंड पकड़ कर उसके सुपारे की स्किन को पीछे किया और अपने मुँह में भर लिया। सुनीता जोर-जोर से लंड चूसने लगी, उधर अजीत ने भी सुनीता की चुत को खोल कर उसे चाटना शुरू कर दिया।

इससे पूरा माहौल गरम और सेक्सी हो गया था। उन दोनों की कामुक आवाजें भी वातावरण को मादक बना रही थीं ‘आआहह.. ऊह.. आहह..’ हम दोनों ने एक-दूसरे को एकदम टाइटली पकड़ लिया था।

लगभग दस मिनट तक उनका यही प्रोग्राम चलता रहा। अब अजीत ने सुनीता को डॉगी स्टाइल में किया और हमारी तरफ देख कर बोला- अरे क्या हुआ.. आप दोनों शरमाओ नहीं.. आप लोग भी शुरू हो जाओ।

डॉगी स्टाइल में सुनीता ने मेरी तरफ देख कर बड़ी ही सेक्सी मुस्कान दी, जैसे कि चोदने के लिए मुझे इन्वाइट कर रही हो कि आ जाओ.. अपना लंड मुझे चूसने के लिए दो.. मैं उसे चूसूँगी।

अब अजीत ने अपने लंड को सुनीता की चुत पर रख कर जोर का धक्का दिया.
. वो चिल्ला पड़ी और अजीत का पूरा लंड सुनीता की गोरी मलाई सी चुत में प्रवेश कर गया। शायद सुनीता को लम्बे लंड के एकदम से ठोके जाने से दर्द हुआ होगा, उसके मुझ से ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ निकल गई और अजीत कुछ समय के लिए रुक गया, फिर वो धीरे-धीरे धक्का मारने लगा।

अब इसमें सुनीता भी भी मजे लेने लगी।

यहाँ हम दोनों भी बहुत ही सेक्सी हो रहे थे.. पर हमारे दिमाग़ में तो घुसा था कि उनकी लाइव चुदाई को देखना ज्यादा ज़रूरी है।

अब अजीत ने धक्के तेज़ कर दिए थे। लगभग 15 मिनट के बाद सुनीता झड़ गई.. लेकिन अजीत फिर भी नहीं रुका.. वो और जोर से धक्के देने लगा। शायद अब वो भी झड़ने वाला ही था।

तभी अचानक अजीत ने धक्का मारना रोक दिया और सुनीता को इशारा किया। सुनीता तुरंत मुड़ गई और उसने अजीत का लंड अपने मुँह में ले लिया। अजीत फिर से धक्के मारने लगा।

यहीं अजीत पूरा झड़ गया और उसका पूरा रस सुनीता ने मुँह में भर लिया, जैसे अमृत मिल गया हो। फिर वो पूरा माल पी गई।

अब दोनों ने कपड़े पहन लिए और हमसे कहा- चलो, चलते हैं।

वापसी में हमारी दोस्ती और बढ़ गई और अजीत व सुनीता ने तय किया कि वो लोग भी हमारे होटल में ही शिफ्ट हो जाएंगे।

मेरी हिंदी सेक्सी स्टोरी पसंद आई या नहीं? आप प्लीज़ मेल करें। [email protected]

Comments:

No comments!

Please sign up or log in to post a comment!