Bahu Ki Chudai Kahani

कुंवारी भोली -1

बात उन दिनों की है जब इस देश में टीवी नहीं होता था ! इन्टरनेट और मोबाइल तो और भी बाद में आये थे। मैं…

लड़के या खिलौने

लेखिका : शालिनी जब से हमारे पुराने प्रबंधक कुट्टी सर नौकरी छोड़ कर गए थे, नए प्रबंधक के साथ बैठ…

My Sisters

HI friends, how are you? This is my 1st story .so 1 st sorry .. koi galti ho to muje maf kar dena..…

तेरी याद साथ है-10

प्रिया ने भी मेरे होंठों पर अपने होंठ रख दिए और चूमते हुए कहा,”ठीक है मेरे स्वामी, अब मैं जाती हूँ। ल…

हुई चौड़ी चने के खेत में -3

लेखक : प्रेम गुरु प्रेषिका : स्लिमसीमा (सीमा भारद्वाज) दूसरे भाग से आगे :‘ओ म्हारी माँ… मैं… मर …